Thursday, 7 May 2020

यदि मैं नेता होता पर निबंध Agar mein neta hota essay in hindi

यदि मैं नेता होता पर निबंध

यदि मैं नेता होता तो जीवन में दूसरों के लिए कार्य करता दूसरों के लिए ही जीता समाज में आ रही कई समस्याओं को दूर कर देता और मैं नेता बनकर अपने लिए नहीं अपने समाज के लिए, अपने देश के लिए जीता।



 जीवन में नेता बनना एक बहुत बड़ी बात होती है जब मैं बच्चा था तो अक्सर सोचा करता था की देश के लिए कुछ ऐसा किया जाए जिससे लोग हमेशा मुझे याद रखें मैं यह बात अक्सर अपने परिवार वालों से कहता था तो मेरे माता-पिता,भाई-बहन मुझे बच्चा समझकर मेरा मजाक उड़ाते थे मैं बड़ा होने लगा स्कूल जाने लगा स्कूल की पूरी पढ़ाई करने के बाद मैं कॉलेज में आया। एक नेता के रूप में कार्य करना मुझे अब बहुत ही अच्छा लगता था।


 मैं हमेशा अपने दोस्तों, रिश्तेदारों या आस पड़ोस की मदद करना काफी पसंद करता था लेकिन मेरे पिताजी अक्सर नेतागिरी के खिलाफ थे वह कहते थे कि राजनीति पहले की तरह नहीं रह गई है इसलिए कभी भी मेरे पिताजी ने राजनीति के क्षेत्र में मुझे उतरने का मना किया मैंने मेरे पिताजी की बात मानी और सोचा कि चलो राजनीति में नेता ना बन सके तो किसी और क्षेत्र में हम नेता बनकर देश के लिए कुछ कर सकते हैं जिससे देश का कुछ भला हो सके साथ में मेरा और मेरे परिवार वालों का नाम भी हो सके।


 आज मैं एक ट्रस्ट चलाता हूं हम ऐसे लोगों की मदद करते हैं जो गरीब, बेसहारा होते हैं मैं हमेशा ऐसे लोगों की मदद करने से पीछे नहीं हटता हमेशा ऐसे लोगों की मदद करता रहता हूं लोग मुझे जानते हैं मेरे शहर में मुझे काफी सम्मान दिया जाता है। आज मैं सोचता हूं कि यदि मैं नेता होता तो कितना अच्छा होता यदि मैं नेता होता तो मैं अपने राज्य और अपने पूरे देश के लिए कुछ बढ़ा कर सकता था।


 यदि मैं नेता होता तो भारत में फैली गरीबी को दूर करने का प्रयास जरूर करता यदि मैं नेता होता तो हमेशा दूसरों के लिए ही जीता मेरे देश वाले ही मेरा परिवार होते जिस तरह से श्री रामचंद्र जी ने अपने समाज के लिए अपने देश के लिए सब कुछ कुर्बान कर दिया था मैं भी काफी हद तक कोशिश करता कि मैं भी श्री रामचंद्र जी के तरह अपना शासन चलाता और अपनी प्रजा के लिए पूरी तरह से समर्पित होता मेरी प्रजा ही मेरे लिए पूरा परिवार होती।


 यदि मैं नेता होता तो मैं देश से भ्रष्टाचार को खत्म कर देता मैं भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कड़े से कड़े कदम उठाता जिससे भ्रष्टाचारी दोबारा से भ्रष्टाचार करने की हिम्मत नहीं करते। मैं यदि एक बड़ा नेता होता तो मैं हमेशा अच्छा करता कभी भी ऐसा नहीं करता कि राजनीति से चले जाने के बाद लोग मुझे बुरा भला कहें मैं एक ऐसा राजनेता बनना चाहता हूं जिसकी तारीफ उसके विरोधी भी करें मैं हमेशा अच्छी राजनीति करने का प्रयास करता।


 यदि मैं नेता होता तो वातावरण को प्रदूषित से बचाने के लिए प्रयास करता आज हम देखें तो वाहन दिन प्रतिदिन काफी बढ़ रहे हैं जिनसे निकलने वाला  हानिकारक धुआ हमारे पर्यावरण को प्रदूषित कर रहा है जिससे कई तरह की बीमारियां हमारे देश में फैल रही हैं और इस प्रदूषण को देखकर कई वैज्ञानिकों ने हमें चेतावनी भी दी है  इन सभी चीजों को देखकर  मैं यही सोचता हूं कि मैं नेता बन कर कुछ ऐसा करता जिससे इन वाहनों की संख्या में कमी आए यानी लोग वाहन कम चलाएं  क्योंकि आजकल हम देखते हैं कि लोग हर छोटे से छोटे कार्य के लिए भी वाहनों से जाना  चाहते हैं इस और विचार करके  कुछ कदम उठाना ही  मेरा सबसे महत्वपूर्ण कदम होता इस तरह से मैं अपने पर्यावरण को प्रदूषित होने से भी बचा पाता।


 दोस्तों अगर मैं नेता होता पर निबंध आपको कैसा लगा हमें जरूर बताएं इसी तरह के बेहतरीन आर्टिकल पाने के लिए हमें सब्सक्राइब करना ना भूलें।

1 comment: